Tuesday 30 September 2008

धर्मनिरपेक्षता या भ्रम

----चुटकी----
चर्च पर हमला
रास्ट्रीय शर्म
संसद और मन्दिर
पर हमले उनका धर्म,
ये धर्मनिरपेक्षता है या
कोई राजनीतिक भ्रम।
---गोविन्द गोयल

3 comments:

seema gupta said...

चर्च पर हमला
रास्ट्रीय शर्म
संसद और मन्दिर
पर हमले उनका धर्म,
" bhut krara vyeng, or shee bhee"

Regards

Udan Tashtari said...

सटीक..

barun k.sakha said...

एक दम सच कहा कृपया इस विषयक और पढें मुझे हमारा मकसद ब्लॉग के माध्यम से सच्ची धर्म-निरपेक्षता को स्थापित कतना है। जो सिर्फ हिन्दूवाद से आ सकती है। हम सिर्फ इसी मुद्दे पर मुहिम चला रहे हैं।